सड़क हादसे में तड़प रहे तहसील कर्मी को हाइवे के देवदूत प्रमोद ओझा ने पहुंचाया अस्पताल

 सड़क हादसे में तड़प रहे तहसील कर्मी को हाइवे के देवदूत प्रमोद ओझा ने पहुंचाया अस्पताल

  • फोरलेन पर कप्तानगंज थाने के महराजगंज ओवर ब्रिज पर हुई घटना 
  •  सीएचसी कप्तानगंज से बस्ती रेफर 

कप्तानगंज बस्ती, फोरलेन पर बीती रात हरैया से लौट कर घर जा रहे मोटरसाइकिल सवार छुट्टा पशु से टकरा कर महराजगंज तेलियाडीह के पास गंभीर हो गये।काफी देर तक सरकारी सिस्टम काम नहीं आया।


घटना स्थल पर पहुंचे नकटीदेई गांव के गौरव तिवारी ऐम्बूलेस को फोन मिलाते रहे लेकिन ऐम्बूलेस नहीं मिली।तो उन्होंने दुर्घटना की सूचना हाइवे के देवदूत प्रमोद ओझा को दी। बताया जाता है कि प्रमोद ओझा अस्वस्थ थे। और चिकित्सक की सलाह पर मेडिसिन लेकिन घर पर आराम कर रहे थे। प्रमोद ओझा हाइवे पर होने वाले सड़क हादसे में घायलों के लिए फरिस्ता बन कर पहुंचते हैं।उन्हें जैसे ही दुर्घटना और सड़क पर घायल के तड़पने की सूचना मिली तो वह खुद को रोक नहीं पाए और अपनी कार से मदद के लिए निकल पड़े। घटना स्थल पहुच त्वरित निर्णय लेकर घायल को अस्पताल पहुंचाया।जहां पता चला कि मोटरसाइकिल सवार घायल हरैया तहसील के बाबू राम प्रकाश जी है।जिसकी सूचना जब प्रशासनिक जिम्मेदारों को हुई तो आनन फानन में तहसीलदार हरैया और नायब तहसीलदार हरैया निखिलेश वर्मा अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे। सीएचसी कप्तानगंज में चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया।इस दौरान मौके पर प्रशासनिक जिम्मेदार तहसीलदार हरैया सतेन्द्र सिंह और नायब तहसीलदार निखिलेश वर्मा घंटों अस्पताल में मौजूद रहे और रेफर होने के बाद भी काफी देर ऐम्बूलेस रोडा बनी रही। प्रमोद ओझा द्वारा त्वरित घायल को अस्पताल पहुंचाने की सराहना तहसीलदार हरैया सतेन्द्र सिंह और नायब तहसीलदार हरैया निखिलेश वर्मा ने की। प्रमोद ओझा सड़क हादसे में घायलों के लिए फरिस्ता बन कर पहुंचते हैं।और अपने निजी साधन से उपचार के लिए भी पहुंचाते हैं।उनके त्वरित निर्णय का पुलिस, पब्लिक और चिकित्सक हर कोई कायल दिखता है।बीती रात एक बार हाइवे के देव दूत प्रमोद ओझा ने फिर लोगों का दिल जीत लिया।

0 Comments